Basant Panchami 2023 Bhog: बसंत पंचमी पर मां सरस्वती को लगाएं ये 5 भोग, बरसेगी ज्ञान की देवी की कृपा

Basant Panchami 2023 Bhog

Basant Panchami 2023 Bhog : बसंत पंचमी पर मां सरस्वती को उनका प्रिय भोग लगाने से आपके जीवन में खुशियां बढ़ती हैं और सकारात्मक ऊर्जा का संचार होता है. आज हम आपको मां सरस्वती के इन 5 भोग के बारे में बता रहे हैं जो मां सरस्वती को चढ़ाने के लिए श्रेष्ठ माने गए हैं।

बसंत पंचमी इस बार 26 जनवरी को मनाई जाएगी और इस दिन ज्ञान और संगीत की देवी मां सरस्वती की विधि-विधान से पूजा की जाएगी और उन्हें मनपसंद भोजन का भोग लगाया जाएगा. मां सरस्वती को सबसे प्रिय पीला रंग माना जाता है। इसलिए पीले वस्त्र पहनकर उनकी पूजा की जाती है और उन्हें पीले फूल, पीली मिठाई और पीले फल का भोग लगाया जाता है।

Basant Panchami 2023 Bhog: मां सरस्वती को लगाएं ये 5 भोग

ऐसा माना जाता है कि बसंत पंचमी पर देवी सरस्वती की पूजा करने से आपके जीवन में स्थिरता आती है और सकारात्मक ऊर्जा का संचार होता है। आज हम आपको बसंत पंचमी पर मां सरस्वती को लगाए जाने वाले उन 5 भोग के बारे में बताने जा रहे हैं, जो मां को बेहद प्रिय माने जाते हैं। इन भोग को लगाने से विद्या की देवी प्रसन्न होंगी और हमारे जीवन को खुशियों से भर देंगी।

बसंत पंचमी पर पीले चावल का सेवन –  बसंत पंचमी पर मां सरस्वती को पीले केसर के मीठे चावलों का भोग लगाने की परंपरा है। पीले चावल को देसी घी, चीनी, केसर और सूखे मेवों के साथ मिलाकर यह व्यंजन तैयार किया जाता है। परिवार के सभी सदस्यों को पीले चावल प्रसाद के रूप में खिलाएं और आस-पड़ोस में भी बांट दें।

बसंत पंचमी पर बेसन के लड्डू का लुत्फ उठाएं – इस साल बसंत पंचमी का पर्व गुरुवार को है. इसलिए इस बार मां सरस्वती को बेसन के लड्डू का भोग लगाना उत्तम रहेगा. देसी घी से बने बेसन के लड्डू का भोग लगाएं। इस बार ऐसा करने से आपको देवी सरस्वती के साथ-साथ देवगुरु बृहस्पति और भगवान विष्णु की भी कृपा प्राप्त होगी। सरस्वती माता आपके विवाह में आ रही बाधाओं को दूर करेंगी और वाणी दोष भी दूर होगा।

Mother love: माँ पिछले 24 वर्ष से एक ही थाली में खाती थी खाना, निधन के बाद खुला थाली का राज

बसंत पंचमी पर पीली बूंदी का भोग- मां सरस्वती को पीला रंग प्रिय होने के कारण बसंत पंचमी की पूजा में पीले रंग की प्रधानता होती है। इस दिन मां सरस्वती को राज भोग लगाना भी अच्छा माना जाता है। बसंत पंचमी पर मां सरस्वती को राजभोग का प्रसाद चढ़ाएं और प्रसाद के रूप में सभी लोगों को खिलाएं। ऐसा करने से आपके भाग्य में वृद्धि होगी।

बसंत पंचमी पर मालपुए का भोग लगाएं– बच्चों के करियर में आ रही रुकावटों को दूर करने के लिए मालपुए को मां सरस्वती के भोग में भी शामिल किया जा सकता है। जिन बच्चों का पढ़ाई में मन नहीं लगता उन्हें बसंत पंचमी के दिन मां सरस्वती की पूजा करनी चाहिए और मालपुए का भोग लगाना चाहिए। ऐसा करने से बच्चों का मानसिक विकास होता है और बुद्धि तेज होती है।

Hindu Temple: मंदिर जाने से पहले करना होगा यह काम, वरना नहीं मिलेगा पूजा-प्रार्थना का फल!