डांट खाने वाले CMHO डॉक्टर जाड़िया के बचाव में भाजपा नेता ने कलेक्टर पर साधा निशाना

डॉक्टर जाड़िया

राजेंद्र सचदेव इंदौर.मध्य प्रदेश भारतीय जनता पार्टी के नेता आपूर्ति निगम के पूर्व अध्यक्ष डॉक्टर हितेश वाजपेई ने इंदौर के लापरवाह कार्य में लापरवाही बरतने वाले CMHO डॉक्टर प्रवीण जाड़ियां को इंदौर के कलेक्टर मनीष सिंह द्वारा कड़ी फटकार देने पर,

डॉक्टर जाड़ियां के बचाव में इंदौर के एक समाचार पत्र में बयान जारी किया है की इसी कारण से डॉक्टर सरकारी नौकरी नहीं करते डॉक्टर हितेश वाजपेई से हम पूछना चाहते हैं कि सरकारी नौकरी करके डॉक्टर जनता के प्रति अपने कर्तव्यों के प्रति लापरवाह होने पर,

क्या उन्हें प्रशासनिक अधिकारियों द्वारा फटकारा नहीं जाएगा क्या सरकारी डॉक्टर होने से उन्हें आजादी मिल गई है कि वह सरकारी नौकरी करके जनता के प्रति उनके कर्तव्यों के प्रति लापरवाह हो जाए और आप सभी के राजनेता जिन्हें जनता स्वयं राजनेता बनाती है।

जनता के साथ नाइंसाफी करें और लापरवाह निकम्मे डॉक्टरों को बचाएं डॉ प्रवीण जाड़ियां द्वारा करोना संक्रमण के प्रारंभ से ही अस्वस्थ होने के बाद भी अंगद के पैर की तरह CMHO के पद पर जमे रहे और इंदौर का स्वास्थ्य विभाग स्वास्थ्य विभाग के मुखिया के अस्वस्थ होने के कारण लापरवाह हो गया।

जिसका खामियाजा इंदौर की जनता आज कोरोना के भारी संक्रमण के दौर से गुजर रही है भुगत रही है डॉक्टर हितेश वाजपेई जी आपको इसकी चिंता नहीं है इंदौर की जनता की आपको चिंता नहीं है आपको सिर्फ चिंता है।

आपके मित्र आपके गुरु डॉक्टर जाड़ियां की आपको यह जानकारी नहीं है कि डॉक्टर झाड़ियां के परम मित्र डॉक्टर माधव ह्सानी को मई माह में कोरोना संक्रमण के दौरान खरीदी गई डॉक्टर्स वह पैरामेडिकल स्टाफ के लिए मासक और PPE Kit घटिया खरीदी कर,

कोरोना योद्धा व पैरामेडिकल स्टाफ के जीवन को खतरे में डालने वाला यही CMHO डॉ प्रवीण जाड़ियां का परम मित्र था डॉक्टर प्रवीण जाड़ियां CMHO थे, जिनके कार्यकाल में यह खरीदी की गई थी. CMHO अपने जादूगरी के आंकड़ों से कोरोना के पॉजिटिव मरीजों की संख्या छुपाने का कार्य करने वाला,

इंदौर में कलेक्टर के निर्देश होने के बावजूद भी कम सैंपल इंग करवाने वाला CMHO डॉ प्रवीण जाड़ियां ही था इंदौर के सारे स्वास्थ्य विभाग को मालूम है कि भ्रष्ट डॉक्टर माधव हस्सानी को बचाने वाला कौन है डॉक्टर हितेश वाजपेई जी आप भारतीय जनता पार्टी के नेता हैं.

मध्य प्रदेश के लोकप्रिय मुख्यमंत्री जी भ्रष्ट अधिकारियों के खिलाफ जंग लड़ रहे हैं आपको उनका साथ देना चाहिए ना कि भ्रष्ट और भ्रष्टाचारियों को साथ देने वाले डॉक्टरों का साथ देना चाहिए आपको यह ध्यान रखना चाहिए इंदौर की जनता जागृत जनता है।

इंदौर की जनता मुख्यमंत्री शिवराज सिंह जी चौहान के साथ भ्रष्टाचार की लड़ाई में कंधे से कंधा मिलाकर उनका साथ देने के लिए तैयार है लेकिन आप स रीके के नेता अपने व्यक्तिगत मित्रता के कारण उन्हें कमजोर न करें सीएचएमओ डॉक्टर प्रवीण झाड़ियां की शिकायतें बहुत है इंदौर की जनता यह चाहती है,

कि वह इंदौर के जिले से अपना तबादला करवा ले उनके लापरवाही के कारण आज इंदौर की जनता कोरोना के भयंकर संक्रमण के दौर से गुजर रही है जिन परिवारों में कोरोना के मृत्यु हुई है उन परिवारों से पूछो कि उन पर क्या गुजर रही है।

डॉक्टर वाजपेई जी अपना आत्म मंथन करें मुख्यमंत्री जी को लापरवाह और भ्रष्टाचार के खिलाफ जंग में उनका साथ दें व्यर्थ के बयान देना बंद करें भ्रष्टाचारियों के समर्थन में व्यर्थ के बयान देना बंद करें अन्यथा इंदौर में भारतीय जनता पार्टी का भारी नुकसान करवा देंगे।

इंदौर की जनता जागृत है हर राजनेता के चाल चलन चेहरे को जानती है इसलिए वह व्यर्थ के बयान देना बंद कर दे इंदौर की जनता इंदौर के कलेक्टर मनीष सिंह के साथ है।

यह भी पढ़ें: जीवन बीमा 2021: खुद को सुरक्षित रखने के लिए संकोच न करें, 2 पिज्जा मूल्य के बराबर बीमा