MP के खरगोन में कर्फ्यू का चौथा दिन, जानें अभी क्या हैं खरगोन के हालात, कब खुलेगा कर्फ्यू

खरगोन

Follow Us On Google News
मनोज रघुवंशी खरगोन। खरगोन में कर्फ्यू का चौथा दिन है रात भर सवेंदनशील इलाको में पुलिस मुस्तेदी से रही वही प्रत्येक मोहल्ले कालोनी ओर चौराहों पर पुलिस बल तैनात हैं बहार से आने जाने पर भी पूरी नजर है रात को कोई अप्रिय घटना की अधिकृत खबर नही है.

पर रात को अफवाहों का दौर तो सोशल मीडिया पर खूब चला था पर कोई अधिकृत सूचना नही आई पुलिस भी इधर से उधर इन कथित सूचनाओं से आ जा रही थी पर कुछ मिला नही, न कोई अप्रिय घटना हुई कुल मिलाकर बीती रात शांति से निकली हैं.

आम जन भी शांति और सद्भावना के साथ चाहते हैं जीना

जिन तत्वों ने शरारत कर खरगोन को अशांत किया है.
ऐसे गुंडाई तत्वों पर सख्त कार्यवाही हो और बुलडोज़र की कार्यवाही भी इन गुंडाई तत्वों के घरों पर हो पुलिस को चाहिए कि जिन लोगो ने आगजनी की पथराव किया है ऐसे लोगो के वीडियो सोशल मीडिया पर खुले आम दिख रहे,

उन्हें चिन्हित कर उन्हें पकड़े और कार्यवाही करे, साथ ही उन लोगो पर भी कार्यवाही हो, जो खुले आम सोशल मीडिया पर नाम लेकर स्वयं के वीडियो धमकी देते हुए खुले आम भेज कर भय पैदा कर रहे हैं और डरा धमका रहे हैं उन्हें भी पकड़े। पुलिस ने अफवाहों से दूर रहने व अफवाहों पर ध्यान न देने की अपील भी की है।

इन सबके चलते कर्फ्यू का तीसरा दिन भी आम जन घरों में ही कैद रहे जरूरत मंद वस्तुओं के लिए लोगो को परेशानी होने लगी है हालात ओ को देखते हुए कर्फ्यू में छूट की आवश्यकता है। कल सांसद गजेंद्र पटेल ने खरगोंन आये और कुछ इलाकों में जाकर स्थिति को समझा और अधिकारियों को सख्त कार्यवाही के निर्देश दिए हैं

अतिक्रमण के नाम पर दो होटल और एक बेकरी पर चला बुल्डोजर

मंगलवार शाम को खरगोन प्रशासन और नगर पालिका ने बुलडोज़र के दम पर होटलों को तोड़ने की कार्यवाही की गई। एसडीएम मिलिंद ढोके से प्राप्त जानकारी के अनुसार शाम 6 बजे के बाद खरगोन के बस स्टैंड क्षेत्र की लजीज होटल, तालाब चोक स्थित मोहन टॉकीज के पास वक्त होटल,

और छोटी मोहन टॉकीज के काजीपुरा की एक बेकरी पर बुलडोज़र चला हॉलाकि तीनो जगहों पर बुलडोज़र ने दुकानों को तहस नहस तो किया पर जमिनोजमद नही किया बुलडोज़र प्रशासन की यह कार्यवाही भी समझ से परे लग रही अगर कोई अतिक्रमण है तो उसे पूरा क्यो नही तोड़ा जा रहा है।

आधा अधूरा तोड़ कर छोड़ देना यह समझ से परे लग रहा है आम जन को जो कार्यवाही की गई। उसमे मोहन टॉकीज के पास की वक्त होटल को आधी अधुरी तोड़ी ओर वक्त होटल के ऊपर से ओर आसपास के अन्य होटल व दुकानों में कुल 14 संदिग्ध लड़के छुपे हुए थे।

वही मोहन टॉकीज के पास की गली में अंधेरे में एक युवक अकेला छुपा देखकर पुलिस ने पकड़ा इस तरह कुल 15 लड़को को पुलिस ने पकड़ा भी है। इन तीनो जगह हुई कार्यवाही के समय इंदौर संभागायुक्त ड़ॉ. पवन शर्मा, आईजी राकेश गुप्ता, कलेक्टर अनुग्रहा पी. अपर कलेक्टर एसएस मुजाल्दा, एसडीएम मिलिंद ढोके, नगर पालिका सीएमओ प्रियंका पटेल सहित एसएएफ, आरएएफ और पुलिस बल मौजूद था।

कर्फ्यू में छूट पर सुबह 8 बजे बैठक के बाद हॉगा निर्णय

खरगोंन कर्फ्यू में छूट को लेकर अपर कलेक्टर मुजाल्दे से बात की तो उन्होंने बताया छूट देने पर विचार किया जा रहा अभी 8 बजे मोहल्ले समिति से नपा के अफसर बात करेंगे अगर छूट के समय वे लोग शांति व्यवस्था रखने का विश्वास देते हैं तो महिलाओं को छूट दी जा सकेगी वो भी वरिष्ठ अफसरों के साथ बैठक के बाद अभी सुबह तो कुछ कह नही सकते पर सुबह 8 बजे बाद बैठक के बाद ही निर्णय होगा।

यह भी पढ़े: SBI ATM से नगद निकासी के बदल गए हैं नियम, जान ले नये नियम वरना अटक जाएंगे पैसे

ये हैं 6 धांसू Mutual Fund Schemes जो 3 वर्ष में कर देती हैं पैसा डबल, जानिए रिटर्न

पिछला लेखSBI ATM से नगद निकासी के बदल गए हैं नियम, जान ले नये नियम वरना अटक जाएंगे पैसे
अगला लेखजबरदस्त ऑफ़र: मात्र 24200 रू में यहां मिल रही Hero Splendor Plus Self, देखें डिटेल्स
ध्रुववाणीन्यूज़डॉटकॉम एक हिंदी न्यूज वेबसाइट हैं जिसकी शुरुआत वर्ष 2020 में की गई थी। यह एमपी के बड़वाह से प्रकाशित लोकप्रिय दैनिक समाचार पत्र ध्रुव वाणी की आधिकारिक वेबसाइट हैं, हमारी टीम प्रति-दिन देश और दुनिया की ताज़ा खबरें हिंदी भाषा में उपलब्ध कराती है। समाचारों के अलावा हम नौकरी, व्यापार, स्वास्थ्य, तकनीकी आदि से जुड़ी जानकारियां भी वेबसाइट पर अपडेट करते हैं, जिससे पाठको को उनके रुचि के अनुसार सभी प्रकार की जानकारी मिलती रहे। हमारा उद्देश्य हैं जनता को उनके अधिकारों और हितों के प्रति जागरूक करना, साथ ही दुनिया भर के हिंदी भाषी लोगों तक हिंदी मे सही जानकारी उपलब्ध कराना भी है। हम पिछले 17 वर्षो से हमारे दैनिक समाचार पत्र ध्रुव वाणी और पिछले 2 से अधिक वर्षो से ध्रुववाणीन्यूज़ के माध्यम से अपने उद्देश्य की पूर्ति के लिए निरंतर प्रयासरत हैं।