Indian Railways: रेल यात्रियों के लिए खुशखबरी, 20 सितंबर से Third AC यात्रियों रेलवे द्वारा मिलेगी ये नई सुविधा, सुनकर यात्री खुशी से झूम उठेंगे

Indian Railways

Indian Railwaysअगर आप भी ट्रेन से सफर करते हैं तो आपके लिए एक बड़ी खुशखबरी है। Indian Railways द्वारा हाल ही में विकसित किए गए AC 3 इकोनॉमी कोच में यात्रियों को अब कंबल-चादर मिलेगी। फिलहाल इस कोच में यह सुविधा नहीं है। अब रेलवे बोर्ड ने तय किया है कि इन कोचों में भी यात्रियों को बेड लिनन की सुविधा मिलेगी।

आपकी जानकारी के लिए बता दे कि इस कोच को जर्मन तकनीक LHB प्लेटफॉर्म पर विकसित किया गया है। इन कोचों में सामान्य AC 3 की तुलना में 15 फीसदी (11 बर्थ) अधिक हैं। आइए जानते हैं इसके बारे में विस्तार से..

Indian Railways के इन कोचों में कंबल-चादर कब से मिलेगा

रेलवे बोर्ड के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि इस महीने की 20 तारीख (20 सितंबर 2022) से AC 3 इकोनॉमी कोचों में यह सुविधा शुरू हो जाएगी। इस कोच के यात्रियों को भी उसी तरह बेड लिनन का एक सेट मिलेगा जैसे AC 3 या AC 2 के यात्रियों को मिलता है।

हालांकि अभी यह तय नहीं हुआ है कि यह सुविधा फ्री में मिलेगी या चार्जेबल होगी? रेलवे बोर्ड के आधिकारिक सूत्रों का कहना है कि इस संबंध में जल्द ही फैसला लिया जाएगा।

सामान्य AC कोच में फ्री तो इस ट्रेन में चार्ज

लिनन की सुविधा केवल Indian Railways के AC डिब्बों में ही उपलब्ध है। सामान्य AC डिब्बों में चाहे वह राजधानी एक्सप्रेस हो, दुरंतो एक्सप्रेस हो या कोई मेल एक्सप्रेस ट्रेन हो, उनमें बेड लिनन मुफ्त में उपलब्ध है।

लेकिन गरीब रथ के AC 3 कोच में बेड लिनन के लिए चार्ज लगता है। यात्रियों को इस ट्रेन में बेड लिनन के लिए 25 रुपये का शुल्क देना पड़ता है। यात्री टिकट बुकिंग के समय यह चार्ज दे सकते है या ट्रेन में अटेंडेंट को पैसे देकर लिनन ले सकते है।

इस कोच में अभी तक लिनन क्यों उपलब्ध नहीं था

रेलवे अधिकारियों का कहना है कि AC 3 इकोनॉमी क्लास में 15 फीसदी सीटें (11 बर्थ) सामान्य AC 3 की तुलना में अधिक हैं। सामान्य AC 3 कोच में 72 बर्थ होती है जबकि इसमें 83 बर्थ का प्रावधान होता है। बर्थ बढ़ाने के लिए इस डिब्बे में जगह नहीं बनाई गई है, जहां कंबल और चादरें रखी हों। इसलिए अभी तक इन ट्रेनों में कंबल शीट की सुविधा नहीं मिल पाई है।

अब कैसे होगी व्यवस्था

रेलवे बोर्ड के अधिकारियों का कहना है कि AC 3 इकोनॉमी कोच में आखिरी तीन बर्थ पर किसी यात्री की बुकिंग नहीं होगी। इस कोच में अंतिम तीन बर्थ नंबर 81, 82 और 83 हैं। इन बर्थ पर किसी यात्री की बुकिंग नहीं होगी।

एडवांस रिजर्वेशन पीरियड के कारण जिन ट्रेनों में इन बर्थों पर पहले से ही बुकिंग हो चुकी है, उन यात्रियों को अन्य बर्थों पर बैठाया जाएगा। इन तीनों बर्थ पर बेड लिनन के पैकेट रखे जाएंगे।

किराया सामान्य AC 3 टियर कोच से कम है

इस नए AC 3 टियर इकोनॉमी कोच की सबसे अच्छी बात यह है कि इसका किराया सामान्य AC 3 टियर कोच से लगभग 8 प्रतिशत कम है। नए AC 3 टियर इकोनॉमी कोच का बेस फेयर सामान्य मेल और एक्सप्रेस ट्रेनों के स्लीपर क्लास के किराए का 2.4 गुना होगा।

वहीं, आरक्षण शुल्क, सुपरफास्ट सरचार्ज और जीएसटी जैसे शुल्क AC 3 टियर कोच के समान हैं। बच्चों के मामले में, मौजूदा AC 3 टियर कोचों पर लागू किराया नए कोचों पर भी लागू होते हैं।

इस कोच की खासियत

AC 3 इकोनॉमी कोच की बात करें तो इस कोच की बर्थ को काफी हल्का लेकिन मजबूत बनाया गया है। हर केपे में स्नैक्स टेबल दिए गए हैं। हर बर्थ में मोबाइल या लैपटॉप चार्ज करने के लिए पोर्ट दिए गए हैं।

हर बर्थ के साथ रीडिंग लाइट भी लगाई गई है। उपरी बर्थ पर चढ़ने के लिए बेहतर सीढ़ियां बनाई गई हैं। कोच में फायर अलार्म सिस्टम भी है। दिव्यांगों के लिए चौड़े दरवाजे रखे गए हैं ताकि व्हील चेयर को अंदर लाया जा सके।

जरूर देखें: यहां लगता है दूल्हों का मेला, लड़कों के इन अंगों की जाँच करके शादी करती हैं लड़कियां

आज ही डाउनलोड कर लें ये सरकारी ऐप, महंगी से महंगी ब्रांडेड दवाएं मिलेंगी सस्ती, यहां देखें पूरी जानकारी

जीवन में एक बार जरूर घूमकर आए ये देश, यहां की सुंदरता देखकर नहीं भरेगा मन, होंगे पूरे पैसे वसूल

Hero HF 100 Finance Plan: रोजाना सिर्फ 64 रु खर्च करके इस 83 kmpl का लंबा माइलेज देने वाली बाइक के बनें मालिक