भारत सरकार विधवा महिलाओं को 5 लाख रुपये और सिलाई मशीन दे रही है? आइए यहाँ जानें

विधवा महिलाओं भारत सरकार Youtube

नई-दिल्ली. भारत सरकार सभी सरकारी योजनाओं के बारे में उनके Official माध्यमों के द्वारा जानकारी देती रहती है। लेकिन अब एक Youtube वायरल वीडियो ने दावा किया है कि भारत सरकार विधवा महिला समृद्धि योजना लाई है।

इस योजना के तहत, भारत सरकार विधवा महिलाओं को नकद में 5 लाख रुपये और एक सिलाई मशीन दे रही है। ऐसी स्थिति में, आम लोगों के लिए यह जानना आवश्यक हो गया है, कि क्या भारत सरकार वास्तव में इस तरह की योजना चला रही है?

यदि भारत सरकार द्वारा ऐसी किसी योजना की घोषणा नहीं की गई है, तो इस दावे की सच्चाई क्या है?यह YouTube वीडियो और केंद्र सरकार की प्रेस सूचना ब्यूरो (PIB) के आधिकारिक ट्वीटर हैंडल पर किए गए दावों को नकली कहा गया है। इसलिए यह जरूरी है कि आप ऐसी किसी भी फर्जी खबर से बचें, अन्यथा आपको भारी नुकसान उठाना पड़ सकता है।

 

भारत सरकार क्या सच में 5 लाख रुपए और सिलाई मशीन दे रही है?

इस Video में यह दावा किया गया है कि भारत सरकार विधवा महिलाओं के लिए ‘विधवा महिला समृद्धि योजना’ लाई है। इस योजना के तहत, केंद्र सरकार सभी विधवा महिलाओं को 5 Lakh रुपये की राशि और एक सिलाई मशीन दे रही है।

वास्तविक सत्य क्या है?

PIB का एक आधिकारिक ट्वीट हैंडल – यह पोस्ट जो PIB Factcheck पर वायरल हुई, उसे नकली बताया गया है। इस ट्वीट में कहा गया है कि यह दावा फर्जी है। केंद्र सरकार द्वारा ‘विधवा महिला समृद्धि योजना’ जैसी कोई योजना नहीं चलाई जा रही है।

इससे पहले भी कई Youtube वीडियो और अन्य सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर सरकारी योजनाओं के नाम पर फर्जी चीजें बनाकर लोगों को ठगने की कोशिश की गई है। कुछ दिन पहले एक Youtube Video में यह दावा किया गया था,

कि भारत सरकार महिला शक्ति योजना ’के तहत सभी महिलाओं के बैंक Acount में 60,000 रुपये भेज रही है। PIB Factcheck ने भी इस वायरल वीडियो को नकली करार दिया। पीआईबी ने स्पष्ट किया कि महिलाओं के लिए ऐसी कोई योजना केंद्र सरकार द्वारा नहीं चलाई जा रही है।

आप एक संदेश भी देख सकते हैं

यदि आपको भी ऐसा कोई संदेश मिलता है, तो आप इसे https://factcheck.pib.gov.in/ या व्हाट्सएप नंबर +918799711259 या ईमेल: pibfactcheck@gmail.com पर एक तथ्य जांच के लिए पीआईबी को भेज सकते हैं। इसकी सारी जानकारी PIB की वेबसाइट https://pib.gov.in पर भी उपलब्ध है।

यह भी पढ़ें: KBC-12: डिलीवरी बॉय ने जीते 50 लाख, क्या आप जानते हैं 1 करोड़ के इस सवाल का जवाब?