Hindi Cinema: डायरेक्टर की बेटी की जगह आग में कूदे, आंखों में आंसू लिए देखती रही यूनिट, बन गए हीरो, गजब है कहानी

Hindi Cinema

मुंबई। Hindi Cinema के हैंडसम अभिनेता जीतेंद्र अपने खास डांसिंग स्टाइल, सफेद ड्रेस और सफेद जूतों के लिए मशहूर रहे हैं. जितेंद्र ऐसे सदाबहार हीरो हैं जिनकी रेखा, हेमा मालिनी, श्रीदेवी, जया प्रदा के साथ जोड़ी शानदार रही है.

हीरो बनने से पहले अपने Hindi Cinema करियर में एक से बढ़कर एक फिल्में देने वाले जितेंद्र की कहानी किसी फिल्म की कहानी जैसी है. एक्टिंग का जुनून ऐसा था कि उन्हें अपनी जान की भी परवाह नहीं थी। आइए बताते हैं। रवि कपूर से लेकर जितेंद्र बनने तक की एक दिलचस्प कहानी।

रवि कपूर के पिता और चाचा फिल्मों की शूटिंग के लिए फिल्म इंडस्ट्री में ज्वैलरी सप्लाई करते थे। कई बार जितेंद्र भी उनके साथ सेट पर जाते थे। शूटिंग सेट पर आते ही रवि के मन में अभिनेता बनने की इच्छा ने जन्म लिया। बातों ने ऐसा मोड़ लिया कि पिता का देहांत हो गया और परिवार की जिम्मेदारी रवि कपूर पर आ गई।

रवि कपूर के पिता और चाचा फिल्मों की शूटिंग के लिए फ़िल्म इंडस्ट्री (Hindi Cinema) में ज्वैलरी सप्लाई करते थे। कई बार सेट पर उनके साथ जितेंद्र भी जाते थे। शूटिंग सेट पर आते ही रवि के मन में अभिनेता बनने की इच्छा ने जन्म लिया।

बातों ने ऐसा मोड़ लिया कि पिता का देहांत हो गया और परिवार की जिम्मेदारी रवि कपूर पर आ गई। ‘गीत गाया पत्थरों ने’ में हिरोवी बनाई थी। शांताराम रवि कपूर से इतने प्रभावित हुए,

कि उन्होंने अपनी अगली फिल्म ‘गीत गाया पत्थरों ने’ में बेटी राज श्री के साथ मुख्य नायक के रूप में रवि कपूर को लिया और नाम बदलकर जितेंद्र रख लिया। इस जितेंद्र ने फिर पीछे मुड़कर नहीं देखा और सफलता की ऊंचाइयों को छूते चले गए।

Viral Video: भारतीयों का जलवा विदेश में, अंग्रेजों ने बजाया भारतीय शादी में बैंड और हिंदुस्तानी डांस कर रहे