कोई भी MMS या वीडियो लीक होने पर वेबसाइट या सोशल मीडिया से ऐसे हटाएं, जानिए ये रहा प्रोसेस

How to Delete MMS

How to Delete MMS: मोहाली की प्राइवेट यूनिवर्सिटी में छात्राओं का एक वीडियों लीक हो गया है। जिस कारण से काफी विवाद हो रहा है। इसमें बताया गया है कि यूनिवर्सिटी की एक लड़की के द्वारा नहाती हुई छात्राओं का एक वीडियों बनाया गया है। और इसके लीक (How to Delete MMS) कर दिया है।

इसमें यह दावा किया गया है कि वीडियों के वायरल होने के बाद कुछ छात्राओं ने सुसाइड करने की कोशिश की, लेकिन कॉलेज ने इस पर दावों को खारिज कर दिया है।

इस हाल में अगर कोई वीडियों वायरल होता है तो उन वीडियों को कई वेबसाइट पर अपलोड कर दिया जाता है। इस हाल में वीडियों के वायरल होने की संभावना काफी अधिक हो जाती है। लेकिन आप इन स्टेप्स को जानकर आप पोर्न साइट या सोशल मीडिया पर वीडियों को डिलीट करवा (How to Delete MMS) सकते हैं।

ऐसे में सबसे अच्छा विकल्प है आप पास के पुलिस स्टेशन में जाकर शिकायत कर सकते हैं। हालांकि इसमें काफी अधिक समय लग जाता है। इस कारण से आप साइट पर जाकर कॉन्टैक्ट कर वीडियों को हटवा सकते हैं।

वेबसाइट के ओनर से करना होगा संपर्क:

अधिकतर वेबसाइट कॉपीराइट को फॉलो करती हैं। इस कारण से इस तरह के पोस्ट को हटवा (How to Delete MMS) सकते हैं। अगर आप वेबसाइट के मालिक से कॉन्टैक्ट नही कर पाते हैं तो आपका इसका दूसरा तरीका अपना सकते हैं।

इसके लिए आप थर्ड पार्टी वेबसाइट www.whois.com की सहायता ले सकते हैं। इसमें किसी भी वेबसाइट के डोमेन नेम डालने पर पूरी डिटेल सामने आ जाती है। इसके बाद साइट के ओनर से संपर्क करने पर रिक्वेस्ट कर सकते हैं। किसी पोर्न साइट से वेबसाइट को हटवाना काफी आसान है। इसके लिए आपको इस लेख में कई विकल्प दिए गए हैं।

गूगल सर्च से भी हटवाएं:

अगर गूगल सर्च से रिजल्ट में कोई एडल्ट पिक्चर और वीडियो दिख रहा है तो आप इसको हटवा सकते हैं। इसके लिए आपको गूगल से कॉनटैक्ट करना पड़ेगा। इसके लिए https://support.google.com/websearch/troubleshooter/3111061#ts=2889054%2C2889099%2C288910This वेबसाइट पर विजिट करना होगा।

इसके साथ इस लिंक पर क्लिक कर सीधे तौर पर एक्सेस कर सकते हैं। इसके द्वारा महिलाओं को इसके खिलाफ अधिक सहायता दी जा रही है। आपकी मर्जी के खिलाफ कोई भी वीडियो और फोटो दिखा ई दे रही है तो इसमें गूगल की सहायता से इस लिंक https://support.google.com/blogger/contact/private_info पर क्लिक कर साइट से फायदा ले सकते हैं।

यदि कोई वीडियों सोशल मीडिया पर है तो पुलिस सबसे पहले अपने फॉरेंसिक टूल का उपयोग करते हैं तो उसको होस्ट वेबसाइट का पता करती है। और साइट यूनिट को यह काफी आसानी से पता चल सकता है। कि यह किस साइट से होस्ट किया जाता है।

पुलिस करे़गी कार्रवाही:

आपको बता दें कि किस किस नेटवर्क में यह वीडियो की फुटेज है इसको चिन्हित करके जानकारी दी जाती है। तो तुरंत वह कंंटेंट हटा लें। यदि इस कंटेंट को समय के अंदर हटवाते हैं तो इस पर लीगल एक्शन लिया जाता है।

एसपी त्रिवेणी सिंह के अनुसार कि हम इस प्रकार के केसेज करते रहते हैं इस प्रकार के हाईफाई मामला है यदि इस प्रकार के अक्सर केस आतेह हैं। इसमें इनडिविजुअल केस होने पर हम इस पर काम करके वीडियों को हटवा देते हैं।

साइबर मामले की जानकारी रखने वाले डिप्टी एसपी विनोद सिंह सिरोही के अनुसार, क्राइम के मामलों में पुलिस जीरो टॉलरेस का रवैया अपनाती है। पुलिस की टीमें नेशनल लेवल पर एक दूसरे के कॉन्टैक्ट में हैं और साइबर मामले में एक साथ काम करते हैं।

इस प्रकार के वीडियों सोशल मीडिया पर कुछ वक्त में हटवाएं जा सकते हैं। इस प्रकार बच्चों को डरने की आवश्यकता नही है। न ही सुसाइड जैसा फैसला लेने की आवश्यकता नही है। इस प्रकार वायरल कंटेट ज्यादा समय तक इंटरनेट पर नही रह सकता है।

जरुर पढ़े:- 99% लोग नहीं जानते कि आखिर मोटरसाइकिल के डिस्क ब्रेक में छेद क्यों होते हैं और कार के डिस्क ब्रेक में क्यों नहीं होते, नहीं जानते तो अभी जान लीजिये

6000mAh बैटरी वाला Realme Narzo 50A स्मार्टफोन खरीदें, 50MP का प्राइमरी कैमरा क्वालिटी, कीमत सिर्फ 9,000 रुपये

6000mAh बैटरी वाला Realme Narzo 50A स्मार्टफोन खरीदें, 50MP का प्राइमरी कैमरा क्वालिटी, कीमत सिर्फ 9,000 रुपये

China ने तैयार की गजब की कार, सड़क पर दौड़ेगी नहीं बल्कि हवा में तैरेगी, रफ्तार होगी 230 किलोमीटर प्रति घंटा, देखें वीडियो