LIC के पास कहीं बेकार तो नहीं पड़े आपके हजारों रुपये, तुरंत करें चेक और खाते में ले रकम

LIC Insurance Policy

New-Delhi. LIC अपने ग्राहकों की सुविधाओं का विशेष ध्यान रखती है। यही वजह है कि कंपनी का फोकस नए प्रोडक्ट्स यानी Policy Launch करने पर भी है। लेकिन कभी-कभी कुछ नीतियां ऐसी होती हैं जिन्हें Policy Holder भूल जाते हैं। यदि आप कभी LIC Policy Holder थे या अभी हैं,

तो आप आसानी से घर बैठे देख सकते हैं या नहीं। LIC की तरह, देश में कई निजी क्षेत्र की कंपनियां हैं जो लोगों का बीमा करती हैं। LIC की तरह, उनके खाते में करोड़ों रुपये पड़े हैं, जिसका दावा नहीं किया जा रहा है।

LIC के पास बेकार पड़ा है पैसा आपको कैसे पता चलेगा

अपने पैसे के बारे में जानकारी प्राप्त करने के लिए, आपको पॉलिसी नंबर, जन्म तिथि और पैन कार्ड प्रदान करना होगा। LIC के पृष्ठ के शीर्ष पर, आपके पास LIC Policy नंबर का एक ब्लॉक होगा जिसमें आप अपनी पॉलिसी नंबर भरते हैं।

Diabetes, मोटापा समेत इन सारी बीमारियों से आपको बचाएगा ये फॉर्मूला, जानें कैसे

उसके नीचे, Policy Holder का नाम पूछा जाता है, जिसमें आपको वही नाम दर्ज करना होगा जो Policy बनाते समय दर्ज किया गया था। उसके ठीक नीचे, पॉलिसी धारक की जन्मतिथि पूछी जाती है, जिसमें आपको जन्म की सही तारीख और वर्ष बताना होता है।

आखरी में आपको PAN Card Number देना होगा। फिर Submit बटन दबाएं। इतना करने के बाद, आपको अपनी जमा की हुई राशि के बारे में पूरी Details मिल जाएगी। सबसे पहले LIC की Website पर Click करें।

इसके बाद Home Page पर जाएं। आपको पेज के नीचे लिंक ढूंढना होगा। आगर आपको इसे ढूंढने में दिक्कत होती है, तो Home Page के दाएं Corner पर ‘खोज’ Tab में ‘Unclaimed Amount’ Type करें। या इस Link https://customer.onlinelic.in/LICEPS/portlets/visitor/unclaimedPolicyDues/UnclaimedPolicyDuesController.jpf पर क्लिक करें।

LIC Policy में आपके पास कुछ Unclaimed Insurance धन हैं, तो आप या लाभार्थी सीधे LIC से Contact कर सकते हैं और राशि के लिए Apply कर सकते हैं।

इसके बाद, कंपनी KYC जैसी औपचारिकताओं को पूरा करके Unclaimed Acount के Payment की Process शुरू करती है। आपको बता दें कि किसी भी फर्जी दावों से बचने के लिए KYC अनिवार्य है।

Electric Vehicles को लेकर सरकार बड़ा फैसला, 1.5 लाख तक का मिलेगा इंसेंटिव

ऐसा क्यों हैं

KYC के खाते में अक्सर उन लोगों के लिए पैसा बचा रहता है जो 3-4 किश्त जमा करने के बाद भूल जाते हैं। इसके अलावा डेथ क्लेम, मैच्योरिटी क्लेम, सर्वाइवल बेनिफिट्स, प्रीमियम रिफंड या क्षतिपूर्ति क्लेम के रूप में जमा होते हैं,

जिसे लोग अपने पैसे जमा करने के बाद भूल गए हैं।इन पैसों को वापस पाने के लिए एक निश्चित अवधि है जिसके बाद इसे लावारिस संपत्ति या लावारिस संपत्ति घोषित किया जाता है। यह राशि हजारों करोड़ रुपये में है।

अगर आपका पैसा भी LIC में जमा है या जिसे आप नहीं ले पाए हैं, तो यह जानने का एक बहुत ही आसान तरीका है। यह तरीका ऑनलाइन है जिसमें पूरी जानकारी एक क्लिक में उपलब्ध है। विशेषज्ञों का कहना है,

कि अक्सर नामित व्यक्ति इस तरह की Insurance Policy के बारे में नहीं जानते हैं। या नीति दस्तावेज उपलब्ध नहीं हैं। इस तरह, Policy Holder की Death के बाद आश्रित इस Amount का दावा करने की स्थिति में नहीं हैं।

Old Bikes 20000 से 25000 की कीमत में यहां मिल रही, जानें कैसे खरीदें

ऐसी Condition से बचने के लिए, Nominee को केवल Policy के बारे में पता नहीं होना चाहिए। बल्कि, उसे यह भी पता होना चाहिए कि Policy से संबंधित दस्तावेज कहां रखे गए हैं। Policy में नामांकन को अद्यतन करने के लिए इसे नहीं भूलना चाहिए।