अजब-गजब: भारत के इन 5 मंदिरों में चढ़ाया जाता हैं मांसाहारी प्रसाद, भक्तो को भोग के रूप में मिलता है चिकन और मटन

Temple

Templeहिंदू धर्म में मांस और शराब को पवित्र नहीं माना गया है, लेकिन देश में कुछ मंदिर (Temple) ऐसे हैं, जहां लोग प्रसाद के रूप में मांस और शराब चढ़ाते हैं, इसे लोगों में प्रसाद के रूप में बांटते भी हैं। यह सुनकर आपको हैरानी होगी और शायद ही आपने इन मंदिरों के नाम सुने होंगे, जहां मांसाहारी प्रसाद बांटा जाता है।

यहां आज हम आपको कुछ ऐसे मंदिरों (Temple) के बारे में बताने जा रहे हैं, जहां प्रसाद के रूप में भक्तों को मटन-चिकन दिया जाता है।

इन Temple में बांटा जाता है मांसाहारी प्रसाद

विमला मंदिर ओडिशा

इस मंदिर (Temple) में देवी विमला की पूजा की जाती हैं और दुर्गा पूजा के दौरान उन्हें मांस और मछली का भोग लगाया जाता है। दुर्गा पूजा के दौरान, पवित्र मार्कंडा मंदिर के तालाब से मछली पकड़ी जाती है उसे पकाया जाता है और देवी को चढ़ाया जाता है। विमला मंदिर के प्रसाद को ‘बिमला परुसा’ के नाम से जाना जाता है।

दक्षिणेश्वर काली मंदिर पश्चिम बंगाल

इस मंदिर में भी पहले देवी काली को मछली की पेशकश की जाती है और बाद में सभी भक्तों को प्रसाद के रूप में परोसा जाता है। मां काली को मांसाहारी भोजन देने की रस्म मानी जाती है।

कालीघाट कोलकाता पश्चिम बंगाल

कालीघाट कोलकाता की कुछ अलग मान्यताएं हैं, देवी के लिए बनाया गया भोग शाकाहारी होता है। लेकिन यहां जानवरों की बलि दी जाती है और भक्त यहां बलि लेकर आते हैं। मांस को बाद में पकाया जाता है और भक्तों को प्रसाद के रूप में परोसा जाता है।

कामाख्या मंदिर असम

असम के इस मंदिर में मां कामाख्या की पूजा की जाती है। कामाख्या मंदिर में दो प्रकार के भोग चढ़ाए जाते हैं, एक सामान्य शाकाहारी और दूसरा मांसाहारी। मांसाहारी भोग में मछली और बकरी का मांस होता है। हालांकि यहां बने खाने में प्याज या लहसुन का प्रयोग नहीं किया जाता है।

दोपहर 1 बजे कामाख्या मां को मांसाहारी भोजन परोसा जाता है। इस कारण मंदिर दोपहर 1:00 बजे से दोपहर 3:00 बजे तक बंद रहता है।

मुनियांडी स्वामी मंदिर तमिलनाडु

तमिलनाडु के मदुरै जिले के पास वडक्कमपट्टी नाम का एक छोटा सा गांव है। गांव अपने वार्षिक मंदिर उत्सव में एक दावत का आयोजन करता है जहां 2000 किलो बिरयानी पकाया जाता है और प्रसाद के रूप में परोसा जाता है। स्थानीय लोगों का दावा है कि बिरयानी भगवान मुनियांडी का पसंदीदा भोजन है।

जरूर देखें: अब एजेंट की झंझट खत्म! मोबाइल से फ्री में ऐसे बनाये अपना पैन कार्ड, जानें Step By Step प्रोसेस

रोजाना सुबह 20 मिनट नंगे पांव घास पर जरूर चलें, मिलेगी कई बीमारियों से मुक्ति, जानें इसके फायदे

सावधान! कहीं आपके स्मार्टफोन में तो नहीं हैं ये खतरनाक apps, पहुंचा रहे कई तरह के नुकसान, तुरंत करें अनइंस्टॉल

यदि आप भी YouTube वीडियो पर बार-बार आने वाले Ads से हैं परेशान? तो बस कर लो ये छोटा सा काम, Ads से हमेशा के लिए मिल जाएगी मुक्ति