MP: अस्पतालों में कोरोना के नाम पर हो रहे ये दो काम, मार डालो या लंबा बिल बनाकर लूट लों

कोरोना

भोपाल. आज-कल लगातार अस्पतालों में चल रही मनमानी को लेकर डॉक्टरों ने बहुत अति मचा दी है। कारण है कि  मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कोरोना काल के दौरान डॉक्टरों को फ़्री हैंड कर दिया है।

तब से डॉक्टर भी अपनी मन-मानी करने से बाज नहीं आ रहे है। इन दिनों कोरोना के नाम पर या तो जमकर लूट मचा रहे है या मरीजों को मौत के घाट उतार रहे है। अब सरकार को भी इस पर ध्यान केंद्रित करना चाहिए।

बरहाल महामारी से जितने मरीज मर नहीं रहे है उससे अधिक तो डॉक्टर मार डाल रहे है। एक ताजा मामला महू के प्रेस फोटो ग्राफर श्री पवन बड़ोनिया की धर्म पत्नी के साथ घटा। उन्होंने डॉक्टरों पर मनमानी और लापरवाही का आरोप लगाया है।

बरहाल समय रहते हुए डॉक्टर सुध ले लेते तो उनकी पत्नी की जान बच जाती। हालांकि महू के पत्रकार 23 सितम्बर को एसडीएम को मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन देंगे। जिस पर दोषी डॉक्टरों के खिलाफ जांच करवाने की मांग करेंगे.

और सरकार से उन्हें आर्थिक मदद की मांग करेंगे। जिस दिन सरकार अस्पतालों को कोरोना मरीज का बिल देना बंद कर देगी तो उस दिन से कोरोना खुद ब खुद ख़त्म हो जाएगा इधर रोजाना डॉक्टरों की चांदी हो रही है।

लगातार कोरोना के नाम पर लूट मचा रहे है,और लोगो की जान के दुश्मन बने हुए है। सरकार से अपील करता हूं कि अब कोरोना के नाम का फंड देना बंद करे। यह आपकी कमाई का हिस्सा नहीं है। जबकि जनता की खून पसीने की कमाई का धन है।

यह भी पढें: VIDEO: 25 दिन बाद नर्मदे हर के उदघोष व पूजन के साथ नर्मदा पुल हुआ शुरू