ओंकारेश्वर: 21 गेट खोलकर 13 हजार 839 क्यूसेक पानी छोडा जा रहा हैं, नर्मदा पुल बंद

ओंकारेश्वर – मध्यप्रदेश में हो रही भारी बारिश के चलते ओंकारेश्वर बांध के उपरी क्षैत्र के जलस्तर में बढौतरी हुई हैं। बांध में जलभराव के स्तर को बराबर रखने के उद्देश्य से शनिवार दोपहर 12 बजे ओंकारेश्वर बांध के 23 में से 21 गेट खोल दिए गए हैं, बांध से कुल 13 हजार 839 क्यूमेक्स पानी छोडा जा रहा हैं।

स्थानीय प्रशासन द्वारा शुक्रवार सुबह से ही ओंकारेश्वर के सार्वजनिक उद्घोषणा केन्द्रों से लगातार समझाईश दिलवाई जा रही हैं वहीं नर्मदा नदी के सभी घाटों पर गार्ड खड़े कर दिये गये हैं। तथा साईरन को बजाकर शासन के द्वारा चेतावनी दी जा रही हैं।

इन्दौर खण्डवा को जोडने वाला नर्मदा पर बना ब्रिज से किया आवागमन बंद

नर्मदा के सभी घाट जलमग्न हो गए हैं. नर्मदा के घाटों के आसपास रहवासी लोग एवं नाविक गण दुकानदार सभी को वार्निंग लगातार दी जा रही है. नर्मदा किनारे रहने वाले लोग भी अपने सामान की सुरक्षा करते हुए अपने सामान को हटा रहे हैं,

वहीं खंडवा इंदौर राजमार्ग ब्रिज भी बंद कर दिया गया है. मोरटक्का का ब्रिज जो अंग्रेजों के शासनकाल का बना हुआ था, वह भी अब बंद कर दिया गया है लगभग करीब अभी 3 से 4 फीट पानी नीचे है इसी के चलते सुरक्षा की दृष्टि से मोरटक्का ब्रिज को बंद कर दिया गया है।

इसे भी पढ़ें: इंदौर के मशहूर अभिनेता ने रचाया विवाह, प्रकाश जावड़ेकर सहित कई बड़े नेताओं ने दी बधाई