रेहड़ी-पटरी वालों को बिना किसी गारंटी के सरकार देती है 50,000 रुपये, जानिए इसमें आवेदन करने का तरीका

PM Svanidhi Yojana

PM Svanidhi Yojana

PM Svanidhi Yojana: रेहड़ी और ठेला लगाने वालों का काम इस तरह का होता है कि वो लोग रोज कमाते हैं और रोज खाते हैं। इन लोगों के पास किसी भी तरह की बड़ी सेविंग नही होती है। कोरोना काल के दौरान रेहड़ी पटरी वालों का काम ठप हो गया और उनको काम को शुरु करने के लिए फिर से कुछ पूंजी की जरुरत पड़ी थी।

इस तरह के हालात से उभरने के लिए सरकार की एक योजना काम आई जिसका नाम है पीएम स्वनिधि स्कीम (PM Svanidhi Yojana)। सरकार के द्वारा इन लोगों के लिए इस योजना की शुरुआत की है।

इस योजना का फायदा उठाकर रेहड़ी और पटरी वालें लोग अपना काम शुरु कर सकते हैं। सरकार इस स्कीम के तहत सहड़ पर दुकान लगाने वालों और छोटा व्यवसाय करने वालों की 50 हजार रुपये तक का लोन देकर सुविधा देती है।

गारंटी की नहीं होती जरूरत: PM Svanidhi Yojana

बता दें कि रेहड़ी-पटरी वालों को यह समस्या रहती है कि लोन को लेने के लिए उनके पास किसी भी प्रकार की गारंटी नही होती है। इसी वजह से उनको लोन नही मिल पाता है। लेकिन सरकार की इस स्कीम में किसी भी प्रकार की कोई गारंटी नही होती है। एक तरह से बिना गारंटी का लोन होता है।

एक से अधिक बार ले सकते हैं लोन:

बता दें कि केंद्र सरकार की PM Svanidhi Yojana की सबसे खास बात यह है कि इसमें एक से अधिक बार लोन ले सकते हैं। इसमें पहले ग्राहकों को 10 हजार रुपये का लोन मिलता है।

इसको हर महीने की किस्त के द्वार चुका सकते हैं। इसके लिए पर्याप्त समय भी मिलता है। एक बार के लोन को चुकाने के लिए एक साल का समय मिलता है।

लोन लेने का प्रोसेस:

अगर आप लोन लेना चाहते हैं तो सबसे पहले आपको इस योजना के लिए आवेदन करना होगा। इसके लिए आपको किसी भी सरकारी बैंक में जाना होगा। इसके बाद PM Svanidhi Yojana का फॉर्म फिल करें।

भरे गए फॉर्म के साथ आधार कार्ड की कॉपी को अटैच करें। इसके बाद बैंक के द्वारा आपका लोन अप्रूव कर दिया जाएगा। अप्रूव होने के बाद योजना के पैसे किस्त के माध्यम से मिल जाएंगे।

अब तक कितने हुए आवेदन:

आपको बता दें कि सरकार के द्वारा जारी यह योजना जनहित है इस प्रकार इसका लाभ हर छोटा व्यवसायी उठा सकता है। जुलाई में जारी आंकड़ो के मुताबिक PM Svanidhi Yojana का लाभ लेने के लिए 53.7 लाख पात्र लोगों के द्वारा आवेदन किया जा चुका है।

जिसमें 36.6 लाख को अप्रूव कर दिया गया है और 33.2 लाख आवेदन कर्ताओं को लोन मिल चुका है। इस साल जुलाई के डेटा के मुताबिक 3,592 करोड़ रुपये की राशि बांटी जा चुकी थी और 12 लाख रेहड़ी-पटरी वाले अपना कर्ज चुका चुके हैं।

जरुर पढ़े:- WhatsApp करता है यूजर्स की जासूसी, Telegram के फाउंडर ने किया दावा

Business Idea: 10 हजार रूपये के निवेश से शुरू करें ये सुपरहिट बिजनेस, हर रोज होगी 2 हजार रूपये तक की कमाई

Toyota ने बाजार में लॉन्च की अपनी ‘सुपरकार’, कम कीमत में मिलेगा सुरक्षित सफर

Toyota ने बाजार में लॉन्च की अपनी ‘सुपरकार’, कम कीमत में मिलेगा सुरक्षित सफर