केंचुए को पाल पोस कर बनाया जहरीला नाग, डसने लगा तो बाबा का सर कुचल डाला

कंप्यूटर बाबा

इंदौर. मध्यप्रदेश बीजेपी सरकार दोबारा इंदौर में कंप्यूटर बाबा के आश्रम पर कार्यवाही कई सवालों के घेरे में क्या सरकार अब प्रदेश में अब ऐसे ही बदले की कार्यवाही अपने सभी विरोधियो के साथ करेगी? 15 साल तक शिवराज सरकार कंप्यूटर बाबा को क्यों सर आँखों पर बैठा के घूम रही थी?

सभी कलेक्टर जिसे अपने आफिस में बैठा ससम्मान चाय नास्ता करवाते थे 15 साल शिवराज सरकार में जिसने खूब लाइजनिंग की। चुटकियो में अधिकारियों की पोस्टिंग मन चाही जगह करवाने का दम रखने वाले कंप्यूटर बाबा का तकरीबन 20 करोड़ का साम्राज्य आज हुआ ध्वस्त।

कंप्यूटर बाबा ने अगर इतना बड़ा अवैध अतिक्रमण कर रखा था। अगर कंप्यूटर बाबा अपराधी है तो शिवराज सरकार ने उन्हें राज्य मंत्री का दर्जा क्यों दिया था? अतिक्रमण स्थल पर भव्य यज्ञ कार्यक्रम में साधुओं को आमंत्रण देने सरकार ने कंप्यूटर बाबा को हेलीकाफ्टर क्यों उपलब्ध करवाया था?

क्या अधिकारियों को जब ये बात ज्ञात नही थी कि कंप्यूटर बाबा ने अवैध अतिक्रमण कर रखा है? या ये समझे कि आप खूब अतिक्रमण करो, अवैध गैरकानूनी धंदे करो, मिलावट-खोरी करो सरकार आपके साथ पूर्ण सहयोग करेगी।

लेकिन अगर अपने सरकार के खिलाफ कोई ब्यानबाजी की तो सरकार आपको जेल में डाल देगी। कुछ दिन पहले मुम्बई में एक फिल्मी कलाकार के घर पर महाराष्ट्र सरकार दुवारा की गई अतिक्रमण विरोधी कार्यवाही पर पूरे देश मे बीजेेपी ने हो हल्ला मचाया था।

इसे कई मामले देखे गए है, जिसमे विपक्षी दल कोई कार्यवाही करता है तो बीजेेपी सड़क पर उतर आती है। और सरकार में आते ही वो ही कार्य बीजेेपी करती है तो वो कार्य देश भक्ति, कानूनी कार्यवाही, देश-प्रदेश हित का कार्य बन जाता है।

यह भी पढ़ें: विराट कोहली की ऑडी R8 पिछले कई सालों से महाराष्ट्र थाने में खा रही है धूल, जानें क्यों?