सिंधिया को अपने गढ़ में रोकना पड़ा भाषण, गद्दार वापस जाओ के लगे नारे, 500 लोग गिरफ्तार

सिंधिया

मुरैना. मध्यप्रदेश में उपचुनाव को लेकर चल रहे भाजपा के दिग्गज नेताओं के ग्वालियर-चंबल क्षेत्र में दौरे के दौरान बार-बार लागतार राज्यसभा के सांसद सिंधिया को विरोध का सामना करना पड़ रहा है।

आज 12 सितंबर 2020 को फिर कांग्रेसियों द्वारा काले झंडे दिखाकर सिंधिया का जमकर विरोध किया गया। बता दे कि शुक्रवार को पोहरी विधानसभा क्षेत्र में भी सिंधिया का भारी विरोध देखने को मिला था।

सालों में पहली बार सिंधिया का अपने गढ़ में हुआ विरोध, रोकना पड़ा भाषण

यहां सिंधिया की सभा में युवाओं ने जमकर हंगामा किया था, जिसकी वजह से सिंधिया को बीच में ही अपने भाषण को रोकना पड़ गया था. हैरान करने वाली बात तो ये है कि सालों में पहली बार है, जब गढ़ में उनका विरोध देखने को मिला है. महाराज के हो रहे बार-बार बिरोध के कारण भाजपा हाईकमान चिंता में है.

लेकिन इसके पहले कांग्रेसियों ने सिंधिया का विरोध करना शुरू कर दिया और सड़कों पर काले झंडे दिखाए गए और भारी भरकम रैली निकाली. जानकारी मिलते ही सुरक्षा बल मौके पर पहुँचा.

राकेश मावई सहित 500 कांग्रेसियों को लिया हिरासत में

कांग्रेस का दामन जब से महाराज ने छोड़ा है तभी से उनका पूरे प्रदेश में विरोध हो रहा है, आज फिर से कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने गद्दार वापस जाओ के जोर-जोर से नारे लगाए जिसके चलते कांग्रेस के 500 कार्यकर्ताओं सहित जिले के अध्यक्ष राकेश मावई को भी गिरफ्तार कर लिया गया और city कोतवाली भेज दिया गया. व्यवस्था में चूक न हो इसके लिए चारो तरफ भारी सुरक्षा बल तैनात किया गया था.

यह भी पढें: रिया ने कबूले 3 बड़े सितारों के नाम, थाइलैंड ट्रिप का किया खुलासा, 3 दिन बिना पंखे के बिताये