Toll Plaza से गुजरने वालों के लिए 3 महीने बाद शुरू हो जाएगी ये नई सुविधा

Toll Plaza

नई-दिल्ली। केंद्र सरकार अगले 3 महीने में Toll Plaza के लिए नई नीति लाने जा रही है। इस नीति के तहत Toll Plaza पर GPS आधारित Tracking Toll System की व्यवस्था की जाएगी। Union Minister of Road, Transport and Highways नितिन गडकरी ने,

बुधवार को इस बात की जानकारी दी है. भारतीय उद्योग परिसंघ की वार्षिक बैठक को संबोधित करते हुए गडकरी ने कहा कि वर्तमान में GPS आधारित ट्रैकिंग टोल तकनीक देश में उपलब्ध नहीं है। मंत्रालय इस समय भारत में इस तकनीक को विकसित कर रहा है।

इस साल मार्च में गडकरी ने घोषणा की थी कि भारत में टोल बूथों को पूरी तरह से खत्म कर इस साल तक पूर्ण GPS आधारित Toll Plaza पर Collection की सुविधा शुरू कर दी जाएगी।

(Amazon 15 अगस्त 2021 offers)

Cloth Racks- https://amzn.to/3iBnJWV
Branded Shoes- https://amzn.to/3kXVraK
Electronics Items- https://amzn.to/3y4YZM4
Smartphones- https://amzn.to/3eREVFl
TVs And Appliances- https://amzn.to/2TzqkXx

सड़क निर्माण में स्टील और सीमेंट पर होने वाले खर्च को कम करने के प्रयास

गडकरी ने सड़क निर्माण कंपनियों को सड़क तैयार करते समय कम से कम सीमेंट और स्टील का उपयोग करने का प्रयास करने को भी कहा। इससे सड़क निर्माण की लागत काफी हद तक कम हो जाएगी। गडकरी ने आगे कहा कि सीमेंट और स्टील बेचने वाले देशभर में गुटबाजी कर रहे हैं.

इससे निपटने के लिए उन्होंने सलाहकारों से ऐसा रास्ता निकालने को कहा है, जिससे सड़क निर्माण के दौरान सीमेंट और स्टील की खपत और लागत दोनों को कम किया जा सके। लोकसभा में प्रश्नकाल के दौरान गडकरी ने कहा,

‘मैं आप सभी को विश्वास दिलाता हूं कि एक साल के भीतर देश भर के टोल बूथों को पूरी तरह से हटा दिया जाएगा. यानी अब Toll Collection का Work GPS के जरिए होगा। अब GPS Imaging के जरिए वाहनों से कटेंगे पैसे

GPS आधारित System से कैसे कटेगा टोल?

इससे पहले दिसंबर 2020 में गडकरी ने कहा था कि Toll वसूली के लिए नया GPS आधारित सिस्टम शुरू किया जाएगा। इसके लिए रूसी विशेषज्ञों की भी मदद ली जा रही है। इस प्रणाली के तहत उनके द्वारा वाहन मालिक के खाते या ई-वॉलेट से तय की गई कुल दूरी,

के आधार पर Toll राशि अपने आप कट जाएगी। इस दौरान उन्होंने यह भी कहा कि नए यात्री और वाणिज्यिक वाहनों में Global Positioning System (GPS) की सुविधा मिलती है. सरकार पुराने वाहनों में भी इसे लगाने के तरीके खोजेगी।

FASTag सुविधा वर्तमान में उपलब्ध है

आपको बता दें कि इस समय पूरे देश में FASTag के जरिए Toll Plaza Collection करने की व्यवस्था है. यह भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण (NHAI) द्वारा संचालित है। इस सिस्टम के तहत FASTag को वाहनों के विंडस्क्रीन पर चिपका दिया जाता है। Toll Plaza पर टोल वसूली के लिए वाहनों को रुकना नहीं पड़ेगा। FASTag के जरिए ही टोल की रकम काटी जाती है।

यह भी पढ़ें: मोदी सरकार लाई 15 Lakh Rupaye जीतने का चांस, बस आपको पूरा करना होगा ये काम