Video: मण्डलेश्वर में विलुप्त प्रजाति का, सांप इंडियन एग इटर मिला, MP में मिला दूसरी बार

सांप

नवीन ठाकुर चोली. गुरुवार को मण्डलेश्वर में विलुप्त प्रजाति का सांप इंडियन एग इटर मिला। वन विभाग की अनुसूची 1 में इस सांप का स्थान है। यह सांप मध्यप्रदेश में दूसरी बार मिला है।

प्राप्त जानकारी के अनुसार गुरुवार की सुबह करीब साढ़े दस बजे मण्डलेश्वर उप जेल के पास त्रिभुवन सिंह तोमर के घर सांप निकलने की सुचना थैंक यू नेचर की टीम को मिली। टीम के सदस्य अजय वर्मा और शिवम सेन तत्काल वहां पहुंचे।

टीम सदस्यों ने साप की पहचान इंडियन एग इटर के रूप में की। साप रेस्क्यू कर इसकी सूचना वन परिक्षेत्राधिकारी विधि सिरोलिया को दी गई और उसे वन विभाग कार्यालय लाया गया। जहाँ पर रेंजर सुश्री सिरोलिया ने प्राथमिक तौर पर सांप की प्रजाति इंडियन एग इटर होने की पुष्टि की।

रेंजर ने बताया यह साप बहुत ही कम देखने को मिलता है। इस क्षेत्र में पहली बार मिला है, जिस वजह से इसके बारे में ज्यादा जानकारी नहीं है। यह सांप मिला है तो इस पर गहन अध्ययन का विषय है।

मण्डलेश्वर में मिले सांप की लंबाई साढ़े 25 इंच है। यह वयस्क है। थैंक यू नेचर के सुशील तारे ने बताया एशिया में केवल यह साप ही है जिसका आहार सिर्फ चिड़िया के अंडे हैं। अंडों के अलावा यह कुछ नहीं खाता है।

इस वजह से इसे एग इटर कहा जाता है। प्रायः यह साप जंगल में पाया जाता है। प्राकृतिक आवास घटने से वन्य जीव रिहायशी इलाकों में आ जाते हैं।
खास बात यह है कि यह मध्यप्रदेश में आधिकारिक तौर पर दूसरी बार मिला है। इससे पूर्व में यह सांप मुरैना में मिला था।

यह भी पढ़ें: इंदौर के कैंसर अस्पताल में पी. पी. पी. मॉडल पर लीनियर एक्सील रेटर का निर्णय दुर्भाग्यपूर्ण!