Types of Indian Passport: आखिर भारतीय पासपोर्ट 3 अलग-अलग रंग के क्यों होते हैं? यदि आप एक भारतीय हैं तो आपके लिए ये जानना हैं बेहद ज़रूरी

Indian Passport

Indian Passportअगर आप दुनिया में कहीं भी जाना चाहते हैं, तो आपको पासपोर्ट और वीजा की जरूरत होती है। कई देशों में पासपोर्ट के रंग अलग-अलग होते हैं। आपको बता दें कि इन रंगों के कुछ खास मायने होते हैं। अगर आपके पास Indian Passport है तो आप बिना वीजा के 60 देशों की यात्रा कर सकते हैं। आज हम जानेंगे कि भारत में पासपोर्ट के कितने प्रकार होते हैं।

Indian Passport कितने प्रकार के होते हैं

भारत में तीन तरह के पासपोर्ट होते हैं। इनके बिना आप विदेश नहीं जा सकते। किसी भी विदेश यात्रा के अलावा इसका इस्तेमाल एड्रेस प्रूफ के लिए किया जा सकता है। यह एक महत्वपूर्ण आईडी प्रूफ के रूप में भी कार्य करता है।

रंग से होती पहचान

पासपोर्ट के रंग अधिकारियों, राजनयिकों और नागरिकों की पहचान की सुविधा प्रदान करते हैं। पासपोर्ट का रंग देखकर विदेश में सीमा शुल्क अधिकारी या पासपोर्ट चेकर भारत के लोगों की पहचान कर सकता है। इससे उन्हें इस बात का पता चल जाता है कि उनके देश में आने वाला व्यक्ति किस स्थिति में काम करता है।

नीला पासपोर्ट

भारत में ज्यादातर नीले रंग के पासपोर्ट का इस्तेमाल होता है। यह आम भारतीय नागरिकों के लिए है। नीला रंग भारत का प्रतिनिधित्व करता है।

सफेद पासपोर्ट

भारत सरकार के किसी भी सरकारी अधिकारी को सफेद रंग का पासपोर्ट जारी किया जाता है। अगर वह व्यक्ति किसी सरकारी काम से विदेश जाता है तो उसे यह पासपोर्ट दिया जाता है। यह उसकी आधिकारिक पहचान बताता है। कस्टम जाँच के दौरान उनसे अलग तरीके से डील किया जाता है।

मैरून पासपोर्ट का अर्थ

भारतीय राजनयिकों और वरिष्ठ सरकारी अधिकारियों (IPS, IAS रैंक) को लाल रंग के पासपोर्ट जारी किए जाते हैं। यह एक उच्च गुणवत्ता वाला पासपोर्ट है जिसके लिए अलग से आवेदन दिया जाता है।

इस पासपोर्ट के साथ यात्रा करने वाले लोगों को दूतावास से विदेश यात्रा के दौरान कई सुविधाएं दी जाती हैं। अगर आपके पास मैरून पासपोर्ट है तो आपको वीजा की जरूरत नहीं है। राजनयिक पासपोर्ट भारतीय उच्चायोग के अधिकारियों और सरकार के प्रतिनिधियों को जारी किए जाते हैं।

जरूर देखें: ये छोटा सा काम करने के बाद 130Km/l तक का माइलेज देगा आपका स्कूटर और फिर कभी नहीं पड़ेगी पेट्रोल की जरूरत, जानें सबकुछ

कैसे लड़ेंगे भ्र्ष्टाचार से? प्रदेश मे रिवॉल्विंग फंड की व्यवस्था नहीं! 6 जिलों मे करोड़ों रू मालखानों में कैद!

इस अनोखे AC को गले में लगाओ और फिर बटन दबाते ही ठंडी हवा खाओ, जानें इसकी क़ीमत और अन्य डिटेल्स

आखिर क्यों लिखी होती हैं Railway Station बोर्ड पर समुद्र तल की ऊंचाई, आज इसकी सही वजह जानें